आर्मी ऑफिसर का वीडियो हुआ वायरल, बोले- जाति बताने पर गंदे पानी में लगानी पड़ती थी डुबकी - Indiarox
  • Home
  • Featured
  • आर्मी ऑफिसर का वीडियो हुआ वायरल, बोले- जाति बताने पर गंदे पानी में लगानी पड़ती थी डुबकी
Featured inspiring quotes

आर्मी ऑफिसर का वीडियो हुआ वायरल, बोले- जाति बताने पर गंदे पानी में लगानी पड़ती थी डुबकी

सोशल मीडिया पर कर्नल सौरभ सिंह शेखावत का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. पैराशूट रेजिमेंट की 21वीं बटालियन में तैनात कर्नल सौरभ सिंह शेखावत ने बताया है कि आर्मी में धर्म और जाती पर विवाद क्यों नहीं होता है.

indiarox

सोशल मीडिया पर कर्नल सौरभ सिंह शेखावत का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. पैराशूट रेजिमेंट की 21वीं बटालियन में तैनात कर्नल सौरभ सिंह शेखावत ने बताया है कि आर्मी में धर्म और जाती पर विवाद क्यों नहीं होता है. इस वीडियो को रघु रमन ने पोस्ट किया है. जो पूर्व भारतीय सैनिक हैं. उन्होंने वीडियो पोस्ट कर लिखा है- ”अगर आपको दिनभर में कुछ अच्छा सुनना है तो आपको कर्नल शेखावत की बात सुननी चाहिए, क्योंकि उन्होंने एक मिनट में ही वह सबक सिखा दिया जिसे हमारे सभी राजनेता मिलकर भी हमें नहीं सिखा सके.”

देखें वीडियो-

वीडियो में वो बता रहे हैं कि स्पेशल फोर्स में जाति बताने पर गंदे पानी में डुबकी लगाना पड़ता था. उन्होंने कहा- ‘आर्मी में आप काफी धर्मनिरपेक्ष सोसायटी में रहते हैं और आपको वहां एक यूनिट के तौर पर बिहेव करना होता है. जब मैंने स्पेशल फोर्स ज्वॉइन की थी तब मेरे एक सीनियर ने मुझसे सवाल किया था कि तुम्हारा धर्म और जाति क्या है, तब मैंने कहा कि मैं हिंदू राजपूत हूं. मेरा जवाब सुनने के बाद उन्होंने कहा कि जाओ जाकर उस गंदे पानी में डुबकी लगाकर आओ. मैंने उनकी बात मान ली और मैंने गंदे पानी में डुबकी लगा दी. डुबकी लगाते वक्त लगा कि मुझसे कोई गलती हुई होगी, मैंने कुछ गलत कहा होगा. जैसे ही मैं बाहर निकला तो उन्होंने फिर मेरी जाति के बारे में पूछा, तो मैंने कहा मेरी जाति स्पेशल फोर्स है और धर्म भी स्पेशल फोर्स है.’

indiarox

जिसके बाद सीनियर ने कहा- अब तुम्हें समझ में आई बात. तुम एक अफसर हो तो तुम्हारा धर्म वही होगा जो तुम्हारे जवानों का धर्म है. अगर तुम्हारे जवान हिंदू हैं तो तुम भी हिंदू हो, अगर वह सिख हैं तो तुम भी सिख हो, वह मुस्लिम हैं तो तुम भी मुस्लिम हो और अगर वह इसाई हैं तो तुम भी इसाई हो. एक ऑफिसर के तौर पर तुम सब कुछ हो. हमारी ऐसी ही धारणा है और अगर यह धारणा पूरे देश में भी लागू कर दी जाए तो बहुत सारी प्रॉब्लम्स का हल हो जाएगा.

Related posts

MEET THE FOUNDER OF HUMAN LIBRARY DELHI NEHA SINGH, WHO IS BREAKING STEREOTYPES OF THE SOCIETY

spyrox

What’s On The Horizon For Men’s Fashion This Fall

indiarox

बिहार : नौवीं के छात्र के बनाये दो एप को गूगल ने खरीदा

spyrox

Leave a Comment