क्लोरीन रिसते ही घर पर ताले लगाकर भागे लोग ट्यूब से लीकेज बंद किया, तब चार घंटे बाद लौटे - Indiarox
  • Home
  • Trending
  • क्लोरीन रिसते ही घर पर ताले लगाकर भागे लोग ट्यूब से लीकेज बंद किया, तब चार घंटे बाद लौटे
Trending

क्लोरीन रिसते ही घर पर ताले लगाकर भागे लोग ट्यूब से लीकेज बंद किया, तब चार घंटे बाद लौटे

Indiarox, India Rox

मंगलवार शाम करीब छह बजे का समय। शारदा नगर, लाहिया कॉलोनी, स्वास्थ्य नगर, सूर्या पैलेस, शिवानी नगर सहित आसपास के…

मंगलवार शाम करीब छह बजे का समय। शारदा नगर, लाहिया कॉलोनी, स्वास्थ्य नगर, सूर्या पैलेस, शिवानी नगर सहित आसपास के क्षेत्रों के लोगों की आंखों में अचानक जलन। सांस लेने में भी दिक्कत। थोड़ी ही देर में अफरातफरी। पता चला कि कबीटखेड़ी ट्रीटमेंट प्लांट से क्लोरीन गैस का रिसाव हुआ। नगर निगम और प्रशासन की टीम वहां पहुंची। करीब 1200 परिवार घरों पर ताला लगाकर बाहर निकल पड़े। ट्रीटमेंट प्लांट के पास कचरा स्टेशन के कर्मचारी भी निजी अस्पताल में भर्ती हुए। रात 10 बजे ट्यूब से रिसाव बंद करने के बाद ही स्थिति सामान्य हो पाई।

स्थानीय पार्षद राजेंद्र राठौर ने बताया कि शाम छह बजे कुछ महिलाआें ने कॉल किया। उन्होंने बताया कि आंखों में जलन हाे रही है। गला सूख रहा है। इस पर कुछ लोगों को भेजा। वे नाले किनारे गए तो पता चला कि कबीटखेड़ी ट्रीटमेंट प्लांट से रिसाव हो रहा है। वहां केवल चौकीदार था। इसकी जानकारी विधायक रमेश मेंदोला ने कलेक्टर निशांत वरवड़े को फोन कर दी। इसके बाद नगर निगम के अफसरों को फोन लगाकर मौके पर जाने के निर्देश दिए। मौके पर पहुंचा दल लाहिया कॉलाेनी और शारदा नगर में करीब 1200 परिवार के लोगों को घरों से निकालकर सड़क पर लाया। घबराहट के कारण एक बच्ची की हालत खराब हो गई और उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती किया। निगम के सिटी इंजीनियर हरभजन सिंह ने बताया कि सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में क्लोरीन का रिसाव हुआ था। रात 10 बजे तक स्थिति कंट्रोल में आ चुकी थी। लीकेज को बंद कर दिया है। हमने एक्सपर्ट को भी बुला लिया है। वे जांच कर बताएंगे रिसाव कैसे हुआ?

मंगलवार शाम करीब छह बजे का समय। शारदा नगर, लाहिया कॉलोनी, स्वास्थ्य नगर, सूर्या पैलेस, शिवानी नगर सहित आसपास के क्षेत्रों के लोगों की आंखों में अचानक जलन। सांस लेने में भी दिक्कत। थोड़ी ही देर में अफरातफरी। पता चला कि कबीटखेड़ी ट्रीटमेंट प्लांट से क्लोरीन गैस का रिसाव हुआ। नगर निगम और प्रशासन की टीम वहां पहुंची। करीब 1200 परिवार घरों पर ताला लगाकर बाहर निकल पड़े। ट्रीटमेंट प्लांट के पास कचरा स्टेशन के कर्मचारी भी निजी अस्पताल में भर्ती हुए। रात 10 बजे ट्यूब से रिसाव बंद करने के बाद ही स्थिति सामान्य हो पाई।

स्थानीय पार्षद राजेंद्र राठौर ने बताया कि शाम छह बजे कुछ महिलाआें ने कॉल किया। उन्होंने बताया कि आंखों में जलन हाे रही है। गला सूख रहा है। इस पर कुछ लोगों को भेजा। वे नाले किनारे गए तो पता चला कि कबीटखेड़ी ट्रीटमेंट प्लांट से रिसाव हो रहा है। वहां केवल चौकीदार था। इसकी जानकारी विधायक रमेश मेंदोला ने कलेक्टर निशांत वरवड़े को फोन कर दी। इसके बाद नगर निगम के अफसरों को फोन लगाकर मौके पर जाने के निर्देश दिए। मौके पर पहुंचा दल लाहिया कॉलाेनी और शारदा नगर में करीब 1200 परिवार के लोगों को घरों से निकालकर सड़क पर लाया। घबराहट के कारण एक बच्ची की हालत खराब हो गई और उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती किया। निगम के सिटी इंजीनियर हरभजन सिंह ने बताया कि सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में क्लोरीन का रिसाव हुआ था। रात 10 बजे तक स्थिति कंट्रोल में आ चुकी थी। लीकेज को बंद कर दिया है। हमने एक्सपर्ट को भी बुला लिया है। वे जांच कर बताएंगे रिसाव कैसे हुआ?

शाम पांच बजे अचानक बदबू आई। बच्चे से कहा कि देख गैस तो नहीं रिस रही। घर के आसपास भी देखा। काफी देर तक कुछ समझ नहीं आया। छह बजे तक सांस लेने में परेशानी आने लगी। आंखों में जलन हुई। बाहर निकलकर देखा तो लोग घर खाली कर इधर-उधर जा रहे थे। भगदड़ सी मची। बाद में पता चला कि गैस रिसी है। हम सभी परिवार सहित घर खाली कर चौराहे तक आ गए। दृश्य ऐसा कि हर कोई बस अपनी जान बचाने में लगा था। थोड़ी देर बाद निगम की गाड़ी आई। अनाउंसमेंट हुआ कि घर खाली करने का। इस पर सभी घर खाली करके बाहर आ गए। दो घंटे तक कपड़ा बांधे रहे। हालात इतने खराब थे कि सांस लेने में काफी दिक्कत हुई। रात 10 बजे तक हालात सामान्य हो गए।

जैसा शारदा कॉलोनी निवासी विनीता तिवारी ने बताया।

क्षेत्र में इतनी दहशत फैल गई कि लोग घरों पर ताले लगाकर चले गए।

YOU MAY ALSO LIKE OUR FACEBOOK PAGE FOR TRENDING VIDEOS AND FUNNY POSTS CLICK HERE AND LIKE US AS INDIAROX

Related posts

अमेजन पर बिक रहे हैं हनुमान, बुद्ध, गणेश जी के फोटो वाले टॉयलेट कवर और पायदान

indiarox

छत्तीसगढ़ के कांकेर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में बीएसएफ के चार जवान शहीद हो गए

indiarox

After Delhi Building Collapse, New Survey To Spot Dangerous Properties

indiarox

Leave a Comment