बिहार : नौवीं के छात्र के बनाये दो एप को गूगल ने खरीदा !
  • Home
  • Gadgets
  • बिहार : नौवीं के छात्र के बनाये दो एप को गूगल ने खरीदा
Gadgets inspiring quotes Interesting Trading

बिहार : नौवीं के छात्र के बनाये दो एप को गूगल ने खरीदा

विश्व के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने पटना के नौवीं कक्षा के छात्र आर्यन राज के बनाये दो एप कंप्यूटर शॉटकर्ट कीज और वाट्सएप क्लीनर लाइट को खरीदा है। गूगल ने आर्यन को मेल कर दोनों एप खरीदे जाने की सूचना दी है। आर्यन को इसके लिए दो लाख रुपये दिए गए हैं। हालांकि आर्यन ने इस राशि को गरीबों में बांट दिये जाने को कहा है। इतनी कम उम्र में दोनों एप तैयार करने के लिए गूगल ने आर्यन की सराहना की है।

गूगल प्लेस्टोर पर मौजूद कंप्यूटर शॉर्टकट किज और वाट्सएप क्लीनर लाइट को इंस्टॉल करने के बाद यूजर इसे बढ़िया रेटिंग दे रहे हैं। कंप्यूटर शॉर्टकट किज इस तरह डेवलप किया गया है कि वह यूजर फ्रेंडली हो। यह यूजर की जरूरत के हिसाब से बनाया गया है। कुछ ऐसे शॉर्टकट कीज हैं जिनके इस्तेमाल से कंप्यूटर पर तेज गति से काम करने में मदद मिलती है। कुछ एजुकेशनल एप्लीकेशन भी हैं जो छात्रों के लिए बेहद उपयोगी हैं।

WhatsApp Co-Founder Brian Acton Says It’s Time to DELETE FACEBOOK

indiarox

वहीं वाट्सएप क्लीनर लाइट एप को डाउनलोड कर लेने के बाद वाट्सएप पर आनेवाले वायरस और अन्य बेकार चीजें खुद ब खुद स्कैन हो जाती हैं। इस एप के जरिये आप अपने वाट्सएप के बैकग्राउंड में तस्वीर भी लगा सकते हैं।

यूजर्स दे रहे बेहतर कमेंट्स :

आर्यन के बनाये गये वाट्सएप क्लिनर लाइट एप की जमकर सराहना हो रही है। यूजर्स ने अपने कमेंट्स भी गूगल को दिये हैं। उनका कहना है कि वाट्सएप क्लिनर एप पहले के सभी एप से बेहतर है और इसके इस्तेमाल से उन्हें ज्यादा परेशानी नहीं हो रही। एक यूजर ने कहा कि वाट्सएप क्लिनर लाइट से वो वाट्सएप इमेज, वीडियो और अन्य अनावश्यक डाटा को मैनेज करने में बड़ी आसानी हो रही है। कई यूजर्स ने बताया कि इस एप को बेहतरीन बताते हुए इसे पांच रेटिंग दिया है। कमेंट में लिखा है कि इस एप से उनके मोबाइल की स्पीड बढ़ गयी है।

कंप्यूटर शॉर्टकट कीज और वाट्सएप क्लीनर लाइट
ऐसा होगा डाउनलोड 

स्टेप 1
गूगल प्ले स्टोर पर जाएं
स्टेप 2
PUB : ARYAN RAJ टाइप करें (ध्यान रखें ये कैपिटल में ही टाइप करें)
स्टेप 3
एप को डाउनलोड करें

आईआईटीयन बनना चाहता है आर्यन : संत माइकल पटना का छात्र आर्यन आईआईटी करना चाहता है। आर्यन ने बताया कि उसके दादा स्वर्गीय राजवंशी प्रसाद ने शुरू से ही नई-नई खोज करने के बारे में बताया था। दादाजी उसे पढ़ाते थे जिस कारण उसकी दिलचस्पी साइंस की ओर अधिक रही। उसकी मां नीतू कुमारी ने बताया कि आर्यन को शुरू से कंप्यूटर में रुचि रही है। उन्हें खुशी है कि बेटे ने दो लाख रुपये दान में दे दिये। आर्यन की बहन अनन्या जया और दादी प्रमिला देवी ने उसे बधाई दी।

YOU MAY ALSO LIKE OUR FACEBOOK PAGE FOR TRENDING VIDEOS AND FUNNY POSTS CLICK HERE AND LIKE US AS INDIAROX

Related posts

सरकारी कॉलेज स्टूडेंट्स ने बनाई Android App, जानिए कैसे ?

spyrox

ट्रिप पर मोबाइल से ही कर सकते प्रोफेशनल फोटोग्राफी, फॉलो करें ये टिप्स

spyrox

नोटबंदी के बाद क्‍यों नहीं भरा रिटर्न? 80000 लोगों के पीछे लगा IT विभाग

indiarox

Leave a Comment